उपवास का वैज्ञानिक महत्व(scientific importance of fast)

 
 नमस्कार दोस्तों,

आप सभी जानते हैं कि हिंदू धर्म में उपवास(Fast) का क्या महत्व (importance) है, आप सभी उपवास की अध्यात्मिक महत्ता (spiritual importance) को तो समझते ही हैं पर क्या आप उपवास के पीछे के विज्ञान को जानते हैं?

      चलिए हम आपको बताते हैं कि उपवास के क्या वैज्ञानिक महत्व हैं,
     तो दोस्तों आप जानते हैं कि आप जो भी चीजें अपने भोजन में शामिल करते हैं जैसे कि तेल, घी, वनस्पति घी (oil, ghee, synthetic oil) से बनी हुई चीजें जो कि आपके पाचनतंत्र (Digestive system) के माध्यम से अापके रक्त (Blood) में चली जाती हैं और वे कुछ रासायनिक क्रिया (chemical reactions) करके जहरीले रसायन(toxic chemicals) में बदल जाती हैं,  अब इनके जहरीले स्वभाव(effect) को कम करने के लिए हमारा यकृत (Liver)और पाचनतंत्र (Digestive system) काफी मेहनत करता है,  अब यकृत(Liver) ज्यादा काम करेगा तो स्वाभाविक है कि वह जल्दी खराब होगा, इसलिए हम  सप्ताह में एक दिन उपवास(Fast) रखते हैं ताकि हमारे यकृत (Liver)को आराम मिले और फिर वह वापस आपने काम में लगे जाए।
      
     इस चीज को समझने के लिए एक सामान्य उदाहरण (Example)  है, कि मान लीजिये आप विद्यार्थी (student) हैं और आपको विद्यालय (school) से रविवार की छुट्टी न मिले उस दिन भी आपको पढाया जाय तो आपको कैसा लगेगा,  या आप किसी  कंपनी में काम करते हैं और आपको हर दिन बिना छुट्टी दिए लगातार काम करने कहा जाए,  तो आप क्या करेंगे?
एक न एक दिन हम विद्यालय (school) जाना बंद कर देंगे या काम करना बंद कर देंगे, वैसे ही यदि हम रोजाना अपने यकृत(Liver) से और पाचनतंत्र (Digestive system) से लगातार भारी-भरकम काम करवाएं तो वह भी एक दिन काम करना बंद कर देगें।

     अब आगे बढते हैं और समझते हैं कि और कौन कौन से फायदे हैं उपवास के,
(1) रक्त की सफाई (detoxification of blood) – उपवास में आप न तो भोजन खाएँगे न हो जहरीले पदार्थ आपके रक्त में बनेंगे।
(2) वजन कम करने में सहायक(helpful in weight loss) – उपवास के दौरान भोजन न करने से आपके शरीर में नई कैलोरी नहीं बनेगी, जिससे आपका शरीर पहले से जमा कैलोरी का उपयोग करेगा, और आपका वजन कम होगा।

(3) मोटापा कम करने के लिए जरूरी – आपके शरीर में कैलोरी वसा (Fat) के रूप में इकट्ठी (store) हो जाती है,  उपवास के दौरान वही वसा (Fat) उपयोग में लायी जाएगी और आपका मोटापा कम होगा।


(4) मधुमेह(diabetes) से छुटकारा – मधुमेह का कारण इंसुलिन(insulin) की कमि है, जो कि हमारे भोजन में शामिल गुल्कोज को पचाता (digest) है,  उपवास करने से इंसुलिन के निर्माण में तेजी आती है जिससे मधुमेह(diabetes)  का खतरा कम हो जाता है।

(5) इसके अलावा उपवास रक्त(Blood) में कोलेस्ट्रोल (cholesterol) की मात्रा(quantity) को भी नियंत्रित (control) करता है।
Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *