भौतिकी का नोबेल पुरस्कार 2017 (Nobel price of physics 2017)

 नमस्कार दोस्तों

आप सभी नोबेल पुरस्कार ( noble price) के बारे में तो बखूबी जानते हैं, यह विज्ञान  और कला, साहित्य व शांति के क्षेत्र में दिया जाने वाला विश्व का सबसे बड़ा पुरस्कार ( price) है। यह पुरस्कार विज्ञान(भौतिकी, चिकित्सा, रसायन), साहित्य कला, और शांति कुल पाँच क्षेत्रों में किये गये सराहनीय  काम के लिए दिया जाता है।
इस साल (2017)भौतिकी के क्षेत्र का नोबेल पुरस्कार तीन अमरीकी वैज्ञानिकों को संयुक्त रूप से दिया गया है।
जिनके नाम क्रमशः रेनर वीस, किप थोर्न और बैरी बैरिश है।
इन तीनों वैज्ञानिकों को गुरुत्वाकर्षण (gravitation) से जुड़ी तरंगों  की खोज के लिए यह पुरस्कार दिया गया। गौरतलब है कि विज्ञान की दुनिया के सबसे चमकीले तारे सर अल्बर्ट आइंस्टीन ने 100 साल पहले यह थ्योरी दी थी,  और आज हमारे ये तीन वैज्ञानिक उस थ्योरी के पीछे के कारण को समझने में कामयाब हुए।

-हमारे देश के महान वैज्ञानिक सी.वी.रमन को भी 1930 में भौतिकी के क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार दिया जा चुका है, उन्होंने प्रकाश के विक्षेपण (scattering of light) की व्याख्या की थी।

शुभ्रमंन्यम चन्द्रशेखर जो कि 1910 में भारत के लाहौर( वर्तमान पाकिस्तान) में जन्मे थे,  जो कि सी. वी रमन के भतीजे थे उन्हें भी भौतिकी का नोबेल पुरस्कार 1983 में मिला था।

फिजिक्स के क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार 1901 से 2017 तक कुल 206 वैज्ञानिकों को दिया गया है।
जोन बारडीन एकमात्र ऐसे वैज्ञानिक हैं जिन्हें भौतिकी के क्षेत्र में दो बार नोबेल पुरस्कार दिया गया है।
और जानें 
रसायनशास्त्र का नोबेल पुरस्कार 2017 (chemistry noble price 2017)

-धन्यवाद-

 

।।जय हिंद जय भारत।। 

 

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *