type of medicine in hindi

दवाओं के प्रकार(Type of Medicine in Hindi)

Type of Medicine in Hind

नमस्कार दोस्तों,
आज हम बात करेंगे कुछ ऐसे chemical की जिन्हें हम बीमार होने पर सबसे पहले याद करते हैं,

इन Medicine के आपने अक्सर नाम सुना तो होगा कुछ के बारे में आप जानते भी होंगे।

तो चलिए हम आपको कुछ  Important Medicine के प्रकार के बारे में जानकारी देते हैं।


Medicine (ड्रग) क्या है?

Medicine वह पदार्थ है जो रोगों के लक्षणों को दूर करता है या रोगों की रोकथाम करता है|

दवाओं के प्रकार के संबंध में दो बातें Important हैं:

  • पहला इसका प्रयोग बहुत बड़ी संख्या में लोगों के ईलाज के लिए होता है|
  • दूसरा ये दवाएं दवा कम्पनियों को नए-नए अनुसंधान के लिए प्रेरित करती हैं|

इनका निर्माण या उत्पादन न केवल औषधीय पौधों जैसे- हल्दी, एलोविरा और तुलसी आदि से किया जाता है बल्कि कार्बनिक संश्लेषण के माध्यम से भी किया जाता है| इस लेख में हम कुछ महत्वपूर्ण दवाओं के बारे में चर्चा कर रहे हैं|


एनेस्थीसिया(Anesthesia) क्या है?

एनेस्थेटिक दवाओं का उपयोग मुख्य रूप से operation के दौरान अंगों को anesthetize करने के लिए किया जाता है।

सर्वप्रथम विलियम मोर्टेन ने डाई इथाइल ईथर को एनेस्थीसिया के रूप में इस्तेमाल किया था। बाद में 1847 में जेम्स सैम्पसन द्वारा क्लोरोफॉर्म को एनेस्थीसिया के रूप में इस्तेमाल किया गया था।

इसके अलावा सल्फोनल (sulphonal), वरोनल (veronal), क्लोरोप्रोपेन, कोकीन, डाईजीपाम (diagipalm), पेंटोथल सोडियम, हैलोथेन, नाइट्रस ऑक्साइड आदि योगिकों का प्रयोग भी एनेस्थीसिया के रूप में किया जाता है|


एंटीबायोटिक (Antibiotics) क्या है?

एंटीबायोटिक दवाओं को सूक्ष्मजीव(micro-organism), कवक(fungus) आदि द्वारा तैयार किया जाता है और इनका उपयोग अन्य जीवों को मारने तथा जीवाणु एवं विषाणु के विकास (प्रसार) की जाँच के लिए किया जाता है|

सर्वप्रथम 1929 में अलेक्जेंडर फ्लेमिंग ने “पेनिसिलिन” एंटीबायोटिक का आविष्कार किया था जिसका प्रयोग जीवाणु, विषाणु और कवक को नष्ट करने के लिए प्रयोग किया जाता है।

टेट्रासाइक्लिन, सेफ्लोसपोरीन, स्ट्रेप्टोमाइसिन, जेंटामाइसिन, रिफामाइसिन आदि कुछ अन्य महत्वपूर्ण एंटीबायोटिक दवाएं हैं जिनका अक्सर इस्तेमाल किया जाता है|


रोगाणुरोधी (Antiseptic) क्या है?

एंटीसेप्टिक दवाएं सूक्ष्मजीवों (जीवाणु और विषाणु) को मारने और उनके प्रसार को रोकने में सहायक होता है।

यह विशेष रूप से रक्त को प्रदूषित होने से रोकने के लिए और घाव की सफाई हेतु इस्तेमाल में लाया जाता है|

कुछ एंटीसेप्टिक दवाएं जो आमतौर पर इस्तेमाल हो रहा है उनमें डेटाल, सेवलान, आयोडीन टिंचर, हाइपोक्लोरस एसिड, इथाइल अल्कोहल (spirit), फिनोल हेक्साक्लोरोफिन, फॉर्मलडीहाइड, हाइड्रोजन पेरोक्साइड(H²0²), अक्रिफ्लेविन प्रमुख हैं|


एंटीपायरेटिक्स (Antipyretic) क्या है?

एंटीपायरेटिक्स दवाओं का इस्तेमाल दर्द निवारक और बुखार रोधी दवा के रूप में किया जाता है| कुछ महत्वपूर्ण एंटीपायरेटिक्स दवाएं एस्प्रिन, क्रोसिन, फेनासिटीन, पायरोमिडीन आदि हैं|


एंटीवेनम (antivenom) क्या हैं?

एंटीवेनम एक special type का drug है जो सांप के venom (snake poison) से तैयार किया जाता है, और सांप के काटने पर ही इसका उपयोग इलाज के लिए किया जाता है।

रोजाना विज्ञान के नये प्रश्नों के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें

-धन्यवाद-

।जय हिंद जय भारत।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *